हार गया इस जग से बाबा

हार गया इस जग से बाबा, आया तेरे द्वार, नजर इक महर की करदे,
थोड़ी सी तू कृपा कर दे, आया तेरे द्वार, नजर एक महर की करदे....

ऐसी बनादे बिगड़ी धूल जाएं मन के सारे पाप ये,
आऊं जो तेरे द्वार मन में जगे विश्वास रे,
थोड़ी सी तू कृपा कर दे आया तेरे द्वार नजर.....

कोई ना संगी साथी मतलब का ये संसार ये,
जिसको भी अपना समझा करता वही व्यापार ये,
किसको अपना मान लू बाबा आया तेरे द्वार नजर.....

किसको सुनाऊं बाबा अपने ये दिल का हाल ये रे,
कोई नही है अपना मोहन तु आके संभाल ले रे,
तेरे बिन ना मेरा गुजारा आया तेरे द्वार नजर एक......

श्याम सलोना मेरा खाटू का तू सरताज रे,
बिगड़ी बनाने आजा हारे का तू ही महराज रे,
अजब बैसला हार के बाबा आया तेरे द्वार नजर....
download bhajan lyrics (59 downloads)