चिट्ठी आई मेरे श्याम दी

नी मैं घुट के कलेजे नाल लाई, चिट्ठी आई मेरे श्याम दी,
नाले पढ़ पढ़ के हो गई शुदाई, चिट्ठी आई मेरे श्याम दी....

गली विच आके जदो डाकिया सी बोलेया,
सुध बुध भुली बूहा दौड़ के मैं खोलेया,
मेरी हो गई सफल कमाई, चिट्ठी आई मेरे श्याम दी....

चिठ्ठी वेख मैनू चढ़ गईया ने खुमारिया,
अंबरा दे विच लोंदी फिरां मैं उडारियां,
ठंड चिठ्ठी ने कलेजे विच पाई, चिट्ठी आई मेरे श्याम दी....

चिठ्ठी विचों आवे सोहनी खुशबु है प्यार दी,
चिठ्ठी कादी आई रुत आ गई बहार दी,
किवें चिठ्ठी दी मैं करा वड़ियाई, चिठ्ठी आई मेरे श्याम दी....

चिठ्ठी विच भेजेया सी श्याम ने प्यार जी,
खुशी विच आई मेरे हंजुया दी धार जी,
नी मैं खुशी विच फुली ना समाई, चिठ्ठी आई मेरे श्याम दी.....
श्रेणी
download bhajan lyrics (102 downloads)