हे प्रथमेश्वर गौरी के नंदन

ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन,
तेरी पूजा करता जो पहले, भरता भंडारे शिव नंदन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन....

हर पूजा में सबसे पहले, तेरा जो वंदन करता देवा,
उसके सिद्ध काज सब करके, बाधाएँ तू हरता देवा,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
भुवन पति है, बुद्धि विधाता, सुमिरे तुमको शुभगुणकानन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन,
तेरी पूजा करता जो पहले, भरता भंडारे शिव नंदन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन....

मात पिता का, फेरा लगाया, तूने उन्हें ब्रह्माण्ड मान के,
प्रसन्न हुए तब मात पिता उन्हें, अद्भुद बुद्धिमान जान के,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
माटी तेरा जो सानिध्य पाए, बन जाएँ प्रभु क्षण में चन्दन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन,
तेरी पूजा करता जो पहले, भरता भंडारे शिव नंदन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन……

तेरी अर्चना जग में निराली, सिद्ध काज कर देने वाली,
भक्तों को देकर तूने शुभ वर, क्षण में उनकी विघ्न है टाली,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
ॐ गं गणपतये नमः, ॐ गं गणपतये नमः,
विघ्न हमारे भी सब हर लेना, विघ्न विनाशक मेरे भगवान्,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन,
तेरी पूजा करता जो पहले, भरता भंडारे शिव नंदन,
हे प्रथमेश्वर, गौरी नंदन, सौ सौ बार करूँ तुझे वंदन……
श्रेणी
download bhajan lyrics (39 downloads)