नौ देवी की जल रही ज्योत

नौ देवी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में,
अम्बे मैया की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में,
दुर्गा मैया की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में,
भजना में भक्तो भजना में भजना में रे सखियों भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में.....

शीश मैया के टीका सोहे नाक मैया के नथनी,
माँ की बिंदिया लगा दे आज बेगी आजा भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में.....

कान मैया के झुमका सोहे गले मैया के हरवा,
माँ को माला पहना दे आज बेगी आजा भजना में,
देवी मैया की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में,
मातारानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में....

हाथ मैया के चुड़ा सोहे कमर मैया के तगड़ी,
माँ के मेहँदी लगा दे आज बेगी आजा भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में.....

पैर मैया के पायल सोहे ऊँगली मैया के बिछुआ,
माँ के महावर लगा दे आज बेगी आजा भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में.....  

कमर मैया के लहंगा सोहे अंग मैया के चोली,  
माँ के चुनर ओढ़ादे आज बेगी आजा भजना में,
मैया रानी की जल रही ज्योत बेगी आजा भजना में.....
download bhajan lyrics (300 downloads)