गणपति ने प्रथम मनावा सा गणपति ने

मनावा मनावा मनावा मनावा
गणपति जी ने प्रथम मनावा सा गणपति ने

शिव शंकर के कुवर लाड़ले ॥
माँ गौरा के प्यारे दुलारे
ओ थाके रिद्धी -सिद्धी चवर धुलावे सा
गणपति जी ने......

न्हाई धोय चौकी पे बिठावा ॥
केशर को रे बाबा तिलक लगावा
मुसे पे चड़ कर आओ सा
गणपति जी ने................

धूप -दीप नय वैधय चढावा ॥
लडूवन को रे बाबा भोग लगावा
मुसे पे चढकर आओ सा
गणपति जी ने................
श्रेणी
download bhajan lyrics (296 downloads)