संवारा सुख दुःख का साथी

संवारा सुख दुःख का साथी अपना साचा यार है,
अपना साचा यार है ये अपना ही दिलदार है,
संवारा सुख दुःख का साथी अपना साचा यार है,

सुख में साथी सब बने गये,
दुःख में न कोई और है,
दुःख में सब का साथ निभाए इसी यह सरकार है,
संवारा सुख दुःख का साथी ............

किसको क्या देना है प्यारे किसको क्या दरकार है,
बिन बोले बिन मंगे देता एसा ये दातार है,
संवारा सुख दुःख का साथी..........

भगती के है वस् में संवारा भगतो से इसे प्यार है,
करले भगती संवारे की यारो का यह यार है,
संवारा सुख दुःख का साथी ......

मतलब की है रिश्ते दरी मतलब का संसार है,
रोशन यार बना ले इस को ना एसी दकार है,
संवारा सुख दुःख का साथी .....

अमित बंसल हनुमानगढ़
श्रेणी
download bhajan lyrics (191 downloads)