बंसी बजइके कहाँ छुपइयो

बंसी बजइके कहाँ छुपइयो,
बंसी बजइके कहाँ छुपइयो,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया कन्हैया....

वृंदावन का मुरलीवाला,
सब कहते है नन्द गोपाला,
छुप छुप के तू ना सता,
वृंदावन का मुरलीवाला,
सब कहते है नन्द गोपाला,
छुप छप के तू ना सता,
ओ नटखट ओ रे कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया कन्हैया....

गोपियो को तू क्यों सतावे,
हांडीयो से माखन चुराए,
मटकिया फोड़े हज़ार,
गोपियो को तू क्यों सताए,
गोपियो को तू क्यों सतावे,
हांडीयो से माखन चुराए,
ओ नटखट ओ रे कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया कन्हैया....

बार बार तू ना मुरली बजावे,
अब तुम ही हो मेरा ठिकाना,
घायल जियरा हमार,
बार बार तू न मुरली बजावे,
अब तुम ही हो मेरा ठिकाना,
घायल जियरा हमार,
ओ नटखट ओ रे कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया कन्हैया,
कन्हैया कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया,
कन्हैया कन्हैया,
करती है तुमसे व्याह,
राधा कन्हैया,
ओ राधा कन्हैया,
ओ राधा कन्हैया ॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (105 downloads)