शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया

शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया,
नाचे लांगुरिया छम छम नाचे लांगुरिया,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥

शीश मैया के मुकुट विराजे अंग मैया के साड़ी,
पर्वत ऊपर राज करत है मैया शेरावाली,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥

सात दीप नौ खंड में हो रही जय जयकार,
मैया मेरी अजब निराली भेद ना कोई पाए,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥

मैया केवल आपका रहा भरोसा मोए,
छवि दिखला दो अपनी मेरी आशा पूर्ण होए,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥

कौन तिथि देवी पूजे कौन तिथि भगवान,
कौन अतिथि शिवजी पूजे कौन तिथि हनुमान,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥

साते को देवी पूजे नवमी को भगवान,
तेरस को शिव जी पूजा पूरण को हनुमान,
शेरावाली के भवन में छम छम नाचे लांगुरिया॥
download bhajan lyrics (84 downloads)