मनमोहना दे दे मुँदरी

मनमोहना दे दे मुँदरी जेहड़ी तू मेरी चुराई होई हां
नंदलाला दे दें मुँदरी जेहड़ी तू मेरी चुराई होई हां

मै आई सी खेल कूद के मुँदरी डीग पयी मेरी
तू आया सी गौआँ चरा के मुँदरी चुक लई मेरी
वे कोई घुली हनेरी . . . . जय हो
मुँदरी चूक लई मरी. . . . .जय हो
हुन मै घर नू जावा. . . . जय हो
माँ तो गालियां खावा . . . जय हो
माँ तो चोरी आई . . . . जय हो
मुँदरी तू ही चुराई . . .  जय हो
मनमोहना दे दे. . . . .

राधे नी तू बड़ी सयानी झूठी तोहमत लावे
असा ना वेखी मुँदरी तेरी झूठ दा सच बनावे
मुँदरी मैं ना पाई . . . . जय हो
झूठी तोहमत लगायी . . . जय हो
मनमोहना दे दे . . .  . . . .

सवा लख दी मुँदरी मेरी हीरेया नाल पिरोई
तू की जाने मोल मुँदरी दा गौआँ दा चरोई
मनमोहना दे दे. . .

कित्थे तू आई हीरेया वाली बरसाने दी छोरी
ग्वाला विच्चो श्याम पछाने बन चौधरन आई
काँच दी मुँदरी तेरी .  . . जय हो
दस नी आकड़ केहड़ी . . . . जय हो
मनमोहना दे दे . . .

ले फड़ राधे मुँदरी तेरी असा तेनु फरमाया
लभी चीज नु कोई ना देंदा साड़ा दिल भरमाया
श्याम ने मुँदरी फडाई. . . . जय हो
राधा हथ विच्च पाई. . . जय हो
मुड़ के घर नू आई. . . जय हो
मनमोहना दीती मुँदरी जहदी सी उसने चुराई होइ आ

कुञ्ज बिहारी
श्री धाम वृन्दावन :-9034547753
श्रेणी
download bhajan lyrics (183 downloads)