राम लखन दोनों भैया

राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं..
मुनि के संग आए हैं, मुनि के संग आए हैं,
राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं॥

गौतम नारी अहिल्या तारी,
पत्थर से नारी बनवाया राम रघुरैया,
मुनि के संग आए हैं..
मुनि के संग आए हैं, मुनि के संग आए हैं,
राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं॥

बन मे जाए ताड़का मारी,
मुनि संग यज्ञ रचैया राम रघुरैया,
मुनि के संग आए हैं..
मुनि के संग आए हैं, मुनि के संग आए हैं,
राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं॥

गिरिजा पूजन सिया जी आई,
बगिया में मिले दोनों भैया राम रघुरैया,
मुनि के संग आए हैं..
मुनि के संग आए हैं, मुनि के संग आए हैं,
राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं॥

तोड़ा धनुष देव हर्षाये,
सिया संग ब्याह रचाया राम रघुरैया,
मुनि के संग आए हैं..
मुनि के संग आए हैं, मुनि के संग आए हैं,
राम लखन दोनों भैया ब्याहन सीता मैया,
मुनि के संग आए हैं॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (162 downloads)