तेरा कुछ लगा हां

तेरा कुछ लागा हां , तभी तो माँगा हां ,
दे दे दर्श बाबा श्याम , की या तो दिल की पुकार हे ,
तेरा कुछ लागा हां......

कदे  कदे तो बाबा तेरी याद घनेरी आवे ,
एक झलक की खातिर तू महाने क्यू  तरसावे,
तू  ही तो  यार हे  यार हे दिल की बहार हे ,
तेरा कुछ लागा हां........

बेगो बेगो आज्या या महाने पास बुलाले ,
बालकिया हां तेरा महाने हिवड़े से लिपटाले,
महाने तो सांवरा, सांवरा तेरे सु प्यार हे
तेरा कुछ लागा हां.......

तेरे सु मिलबा की म्हारे हुक उठन लागी,
कैया प्यास भुजावा जो प्यास हिये में जागी,
आजा रे आ भी जा आ भी जा तेरो इंतजार हे,
तेरा कुछ लागा हां...

अपनों जान के तने म्हे दिल को हाल बतावा
तू जो नहीं सुने तो फिर और कठै में जावा ,
बिन्नू ने एक ही एक ही तेरो आधार हे
तेरा कुछ लागा हां

भजन रचियता : बिन्नूजी
download bhajan lyrics (157 downloads)