राम राम राम भजो राम भजो भाई

राम राम राम भजो राम भजो भाई ।
राम भजन बिन, जीवन सदा दुखदायी॥

अति दुर्लभ मनुज देह सहज ही पायी ।
मुर्ख रहो राम भूल, विषयन मन लायी ॥

बालकपन दुःख अनेक भोगत ही विसारी ।
स्त्री सुत्त धन की अपार चिंता करना नाही ॥

राम नाम जपत त्रिविद ताप जगन साई ।
राम नाम मंगल करन सब विधि सुखदायी ॥

प्रेम मगन मन से सकल कामना विहारी ।
जो ही जपत राम नाम सोई मुख कृपा पायी ॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (970 downloads)