माँ के दर पे है नसीब है जगता

माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता,
माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता,
तेरी आखियो के तारे है,
माँ तुझको ही प्यारे है,
माई ने रखना ध्यान सबका,
माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता,
माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता,
तेरे कहने पे चलते है,
तेरे कर्मो पे पलते है
माई ने हम है तेरी रचना
ओये भगता ओये भगत
मन माँ के धाम पे है लगता
ओये भगता ओये भगता॥

बाल गंगा ही सुहानी इसकी है कहानी पानी इसका गवाह है,
इसमें नाहा के सब रोग मिट जाते सबको पता है.....-2
ओ मैया चमत्कार दिखलाये कोई माँ को जान ना पाये,
मैया चमत्कार दिखलाये कोई माँ को जान ना पाये,
हर कोई माँ का नाम जपता,
माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता॥

अकबर का गुरूर तूने किया चूर-चूर उसे सबक सिखाया,
बात है सच तेरा पहला भगत श्रीधर है कहाया......-2
ओ मैया दे तू ऐसी शक्ति करे उनके जैसी भक्ति,
मैया दे तू ऐसी शक्ति करे उनके जैसी भक्ति,
कामना हर कोई करता,
माँ के दर पे है नसीब है जगता,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता॥

तेरे कहने पे चलते है,
तेरे कर्मो पे पलते है,
माई ने हम है तेरी रचना,
ओये भगता ओये भगता,
मन माँ के धाम पे है लगता,
ओये भगता ओये भगता......
download bhajan lyrics (12 downloads)