बाबा मेरा श्याम हैं

बाबा मेरा श्याम है,
करता सबके काम है,
बाबा मेरा श्याम है,
करता सबके काम है,
सांवरे की महफ़िल को,
भूल नहीं जाना रे,
सबका पालन हार है,
कहते लखदातार हैं,
सांवरे की महफ़िल को,
भूल नहीं जाना रे।।

खाटू में जो भी आता है,
खाली दरबार से ना जाता है,
भरता है बाबा सबकी झोलियाँ,
लखदातार कहाता है,
हारे का सहारा है,
बाबा श्याम हमारा है,
सांवरे की महफ़िल को,
भूल नहीं जाना रे।।

बाबा की सूरत बड़ी प्यारी है,
नीले की करते सवारी हैं,
फ़ागुन के मेले में यहाँ,
भीड़ लगती भारी है,
नीले के असवार हैं,
दुनियाँ की सरकार है,
सांवरे की महफ़िल को,
भूल नहीं जाना रे।।

अहलावती का लाल है,
करता ये काम कमाल है,
सांवरे की महफ़िल में सदा,
होती ग़जब की धमाल है,
दीपक ने गाया है,
गुलशन से लिखवाया है,
सांवरे की महफ़िल को,
भूल नहीं जाना रे........
download bhajan lyrics (92 downloads)