राधे गोविन्द मेरे गोकुल में आ गये

राधे गोविन्द मेरे गोकुल में आ गये,
सोये हुये भाग्य मेरे आज जगा गये॥

सुआ सुआ रंग मेरी राधा को भा गया,
मोर कण्ठ मेरे गोविन्द को छा गया,
रंग रंगीले दोनो वृंदावन वाले,
सोये हुये भाग्य मेरे आज जगा गये.......

चंदा की चांदनी है राधा मैया,
सूरज जू धमके मेरे कृष्ण कन्हैया,
जगमग जैसे हो चांद सितारे,
सोये हुये भाग्य मेरे आज जगा गये.......

दमदम दमके राधे रानी की बिंदिया,
मोर मुकुट वाले कुंवर सांवरिया,
कजरारे नैन जोड़ी राधे सांवरे,
सोये हुये भाग्य मेरे आज जगा गये.......

रूप सांवरी का दिल में समा गया,
सांवर रंग मेरे मन को चुरा गया,
मोहनी मूरत भक्तों के प्यारे,
सोये हुये भाग्य मेरे आज जगा गये.......
श्रेणी
download bhajan lyrics (163 downloads)