हे करुणामयी राधे मुझे बस तेरा सहारा है

कब अपनाओगी, किशोरी मोहे,
कब अपनाओगी
निज कर कमल धरे मस्तक पर,
मोहे वृन्दावन में बसाओगी,
सुन्दर रूप स्वरुप आपनों,
कब तुम मोहे दिखाओगी,
आली किशोरी जो नाम साँचो कर,
मोहे रसिकन माहीं मिलाओगी।

हे करुणामयी राधे,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है,
मुझे बस तेरा सहारा है,
अपना लो मुझे श्यामा,
तेरे बिन कौन हमारा है,
तेरे बिन कौन हमारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है।
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....

कोई किसी का नहीं जहाँ में,
झूठी जग की आस,
झूठी जग की आस,
हम बेबस लाचारों की श्यामा,
तुम से यही अभिलाष,
तुम से यही अभिलाषा,
दीनों पे दया करना,
दीनों पे कृपा करना,
यही स्वाभाव तुम्हारा है,
यही स्वाभाव तुम्हारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है॥
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....

गहरी नदियाँ नाँव पुरानी,
डगमग डोले नैयाँ,
डगमग डोले नैयाँ,
बीच भँवर में आन फँसा हूँ,
पकड़ो मेरी बईया,
पकड़ो मेरी बईया,
कहीं डूब ना जाऊँ मैं,
किशोरी दूर किनारा है,
किशोरी दूर किनारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है॥
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....

तेरे दर पे जो भी आए,
उसको तुम अपनाती,
उसको तुम अपनाती,
श्री राधा, श्री राधा, राधा,
गर्दिश के मारो की श्यामा,
बिगड़ी बात बनाती,
बिगड़ी बात बनाती,
हम जैसे अधमों का,
जीवन तुमने ही संवारा है,
जीवन तुमने ही संवारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है॥
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....

चित्र विचित्र अपने कर्मो से,
मन ही मन घबराए,
मन ही मन घबराए,
तेरी कृपा का ले के सहारा,
द्वार तुम्हारे आए,
द्वार तुम्हारे आए,
तेरे दर के सिवा मेरा,
कहीं नहीं और गुजारा है,
कहीं नहीं और गुज़ारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है॥
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....

हे करुणामयी राधे,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है,
मुझे बस तेरा सहारा है,
अपना लो मुझे श्यामा,
तेरे बिन कौन हमारा है,
तेरे बिन कौन हमारा है,
हे करुणामयी राधे,
मुझे बस तेरा सहारा है।
राधा,राधा,राधा,राधा
श्री राधा,राधा,राधा,राधा.....