खाटु में बैठा है

तर्ज ( चिट्ठी ना कोई संदेश जाने वो कोनसा देश )

मेरी चिंता करने वाला,
हम सबका रखवाला,
खाटु में बैठा है, खाटु में बैठा है ॥

खाटु के कण कण में, रहते है बाबा श्याम,
हम खाटु जाकर के, करते है इन्हें प्रणाम,
मेरे संग चलने वाला, हम सबका रखवाला,
खाटु में बैठा है, खाटु में बैठा है ॥

अब श्याम की यादों में, मेरे आँसु बहते है,
हम श्याम के प्रेमी है, ये शान से कहते है,
मेरा श्याम है दिलवाला, हम सबका रखवाला,
खाटु में बैठा है, खाटु में बैठा है ॥

मैं जब भी बुलाऊँगा ये दौड़ा आएगा,
विश्वास मेरा है ये रुक नही पायेगा,
सुनले ओ गोपाला भक्तों रखवाला,
खाटु में बैठा है, खाटु में बैठा है,
मेरी चिंता करने वाला,
हम सबका रखवाला,
खाटु में बैठा है, खाटु में बैठा है ॥
download bhajan lyrics (147 downloads)