राम की मर्जी

होई है वही जो राम रचि रखा ,
को कर तरक बढ़ावै साखा ,

राम की मर्जी के आगे , राम का दम भर के देख ,
सब तमाशे कर चुका है , ये तमाशा कर के देख ,

राम गर तेरा है तो , तेरी है सारी कायनात ,
सब को अपना कर ने वाले , उसको अपना कर के देख ,

हो गया वही जो राम जी को भाए गा
तेरा जोर न कही पे चल पाएगा

तूने सुख में तो उसे कभी याद ना किया
कभी दिल उसके नाम से आवाद ना किया
दुःख आएगा तो याद साथ लाएगा
तेरा जोर ना कही पे चल पाएगा

माँग उससे तू जाके जो ना देके पछताए
तेरे भरदे भण्डारे किसी ना बताए
बंदा देगा तो हजारों को सुनाए गा
तेरा जोर ना कही चल पाएगा

तेरा जीवन सवर जाएगा
राम कहने से तर जाएगा
श्री राम जय राम जय जय राम
जय जय राम
श्रेणी
download bhajan lyrics (197 downloads)