तुमसे मैं कुछ क्या मांगू तू यार गरीबो का

हारे के तुम्ही सहारे हो खाटू श्याम हमारे,
तुम ही हो बिगड़ी बनाते तूम ही हो भाग्य सवारे
सारे खेल तुम्हारे है जग केहता नसीबो का
तुमसे मैं कुछ क्या मांगू तू यार गरीबो का

जो दर पे तेरे आता खाली न कभी वो जाता
होती किरपा है तेरी बिन मांगे ही सब पाता
सारे खेल तुम्हारे है जग केहता नसीबो का
तुमसे मैं कुछ क्या मांगू तू यार गरीबो का

जिस पर हो तेरा छाया वो जग में नाम कमाया
दुःख दर्द कभी न सत्याए दर्शन जो तेरा पाया
सारे खेल तुम्हारे है जग केहता नसीबो का
तुमसे मैं कुछ क्या मांगू तू यार गरीबो का
download bhajan lyrics (15 downloads)