भोले मेरी नैया को

भोले मेरी नैया को भव पार लगा देना

भोले बाबा तेरे दर पे मैं आस लिए आई हु
तेरे दर्शन की मन में इक प्यास लिए आई हु
है आप के हाथो में मेरी बिगड़ी बना देना

हर और अँधेरा है तूफ़ान ने गेरा है,
कोई राह नही दिखती इक तुझपे भरोसा है
दुःख आप मेरे मन का महादेव मिटा देना
भोले मेरी नैया को भव पार लगा देना

महादेव जटा में तुमने गंगा को छिपाया है
मथे पे सजे चंदा गल नाग लिपटाया है
मुझे नाथ गले अपने महा काल लगा लेना
भोले मेरी नैया को भव पार लगा देना
श्रेणी