साँवरे संसार में क्या हो रहा

साँवरे संसार में क्या हो रहा,
मौत है सर पे है खड़ी जग रो रहा,
साँवरे संसार में क्या हो रहा

तेरे होते हम रहे हैं हार क्यों,
है ख़बर मेरे श्याम या तू सो रहा,
मौत है सर पे है खड़ी जग रो रहा,
साँवरे संसार में क्या हो रहा

बाप बूढा कांपती लाश बेटे की,
बता क्यों ढो रहा मौत है सर पे है खड़ी,
जग रो रहा साँवरे संसार में क्या हो रहा

कौन है अपना बता दे तेरे सिवा,
ये बता हमसे ख़फ़ा क्यों हो रहा,
मौत है सर पे है खड़ी जग रो रहा,
साँवरे संसार में क्या हो रहा

कहते हैं सारे दया सागर तुझे,
फिर ये जग अश्कों से मुंह क्यों धो रहा,
मौत है सर पे है खड़ी जग रो रहा,
साँवरे संसार में क्या हो रहा
साँवरे संसार में क्या हो रहा,
मौत है सर पे है खड़ी जग रो रहा,
साँवरे संसार में क्या हो रहा
download bhajan lyrics (33 downloads)