सालासर वाले तुम्हे आज हम मनायेगे

सालासर वाले तुम्हे आज हम मनायेगे,
महिमा तेरी गायेगे तुझको रिजायेगे

जब कभी भी हम को बाबा तेरी याद आएगी
सालासर आयेगे तेरी पूजा हम रचाएगे

देव तुम निराले हो भगतो के प्यारे हो
तुम सल्सर वाले ईशा पुगाने वाले
अपने भगतो के तुम हो रखवाले
विपदाओं को पल में तुम हो हरने वाले
हर कष्ट हर दुःख को तुम हो मिटाने वाले
असहायो को बाबा तुम शरण देने वाले
चरणों में तेरे रहेगे दूर नही जायेगे
सालासर वाले तुम्हे आज हम मनायेगे,