श्री बाला जी महाराज अनोखी थारी झांकी

श्री बाला जी महाराज अनोखी थारी झांकी

थारे सिर पे मुकट विराजे कानन में देखो कुंडल साजे,
गल वैजयन्ती माल अनोखी थारी झांकी
बाला जी महाराज अनोखी थारी झांकी

हर नैनो में सुरमा साजे माथे पे है तिलक विराजे,
मुख में नागर पान अनोखी थारी झांकी
बाला जी महाराज अनोखी थारी झांकी

थारे अंग में चोला साजे उपर से देखो वरक विराजे,
रोम रोम में राम अनोखी थारी झांकी
बाला जी महाराज अनोखी थारी झांकी

download bhajan lyrics (35 downloads)