म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे

लाज रखले तू आके बलकारियां,
म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे
हाथ जोड़े से भगत हाथ जोड़े से  
इब सुन ले म्हारी किलकारियां
म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे

भुत प्रेत बाबा गेरे खड़े से कष्ट कलेश म्हारे सिर पड़े से
बईया भवरा मैं फसी मन डोले से
थारे चरना में अर्ज गुजरिया
म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे

बाला थारे चरना में हार आये से
सवा मणि भेट थारी आज लाये से
इब खोल दे भुहे दरबार के
तेरे नाम की चडिया खुमारिया
म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे

चेहल दीवाना तने याद करे से
आके तेरे चरना में शीश धरे से  
आके झलक अलख जगावे दरबार पे
सारे काट दे दुखड़े बिमारिया
म्हारी कश्ती ने बाला अब पार करदे
download bhajan lyrics (51 downloads)