म्हारा संत दवारे आया रे भाई जोड़या दोनो हाथ

म्हारा संत दवारे आया रे भाई जोड़या दोनो हाथ
जोड़या दोनो हाथ साधु भाई करु ज्ञान की बात

सतगुरु आया शब्द सुनाया निर्मल हो गया हार
प्रेम शब्द की बात बताई , माला जपूगा दिन रात

जाके सतगुरु सदा साथ है , वाको नहीं रे अगाध
निज भक्ति को बीज रोपियों चालयों सत्संग साथ

पांचों चोर पकड बस्ती मे , सतगुरु मारी लात
कुकर्मा री जात बताई , ईश्वर की नही जात

साहेब कबीर मोहे समरथ मिलिया निवता जिमायो भात
धरामदास पर कृपा करीन , मिल गया दीनानाथ

प्रेषक प्रमोद पटेल
यूट्यूब पर
1.निमाड़ी भजन संग्रह
2.प्रमोद पटेल सा रे गा मा पा
9399299349
9981947823
श्रेणी