मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

टिमक टीम डमरू बजदा मथे उते चंदा सजदा,
नंदी बेल पा झांजर नचदा खा के भंग दा गोला मस्त मलंग हो नचदा
मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

हथी डमरू पैरी घुंगरू मुख ते तेज निराला
जटा वधाये भस्म रमाये तन ते सजे मृग शाळा,
गंगा जल तेरी जटा चो वगदा पाडम्बर तेरा चोला मस्त मलंग हो नचदा
मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

भुत प्रेत दी लैके फौजा गोरा व्यावन आया
सुल्फे ला ला इन भूता ने वखरा रंग जमाया,
घज घज घज बदले घरजे चड दा भंग दा रोला
मस्त मलंग हो नचदा
मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

अमरनाथ दी अमर कहानी जग ऐसा राह जाने
शक्ति तेरी ओढ़दानी दुनिया सारी माने
कलयुग की तेरी इस दुनिया में मचा नाम का रोला
मस्त मलंग हो नचदा
मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

कैलाश पहाडा दे अन्दर आसन महादेव ने लाया
नील कंठ श्मशान दा वासी भरफानी कहलाया,
काला दा तू काल कहांदा गोरव चिन्राग दा भोला मस्त मलंग हो नचदा
मेरा शंकर भोला मस्त मलंग हो नचदा

श्रेणी
download bhajan lyrics (69 downloads)