किस विधि से तोहे राखू साँवरिया

किस विधि से तोहे राखू साँवरिया
नैन विच राखू तो हिया तरसत है
हिया विच राखू तो नैना तरसे।। तोह...

एकहु भांति न मन ठहरत है,
प्यारे बताओ मिलूँ केहि विधि से

नैना से नैना मिलाओ सांवरे
हिया हिय से, अरू गर गर से

'सियाअली' केहि भांति मिलोगे
ताप कटै अंग-अंग पर से
श्रेणी
download bhajan lyrics (71 downloads)