कहे कृष्ण मोरध्वज राजा

कहे कृष्ण मोरधुज राजा,
तुम सब भक्तन सिर ताजा ,

साधुन का वेश बनाये ,
हम द्वार तुमारे आये जी,
संग में बन सिंघ बिराजा ,

हम भोजन हट में कीना ,
सुत बदन काट तुमदीनाजी,
निज धर्म बचन के काजा ,

सब रुदन करे नरनारी ,
तुम धीरज मन मेंधारीजी,
सब तजी जगत की लाजा,

यह देख भक्ति व्रत तेरा,
अति हर्ष भया मन मेराजी,
ब्रह्मानन्द सबी दुख भाजा ,
श्रेणी
download bhajan lyrics (236 downloads)