गाईये गणपति जगवंदन

गाईये गणपति जगवंदन शंकर सुमन भवानी के नंगन॥

सीधी संदन गजबदन नायक॥
किरपा संधू सुन्दर सब लायक॥
गाईये गणपति जगवंदन .........

मोदक प्रिय मुदमगल दाता ॥
विद्या वान बुधि विदाता ॥
गाईये गणपति जगवंदन ...

मांगत तुलसी दास कर जोरे॥
बासु राम सिया  मानस मोरे॥
गाईये गणपति जगवंदन ....
श्रेणी
download bhajan lyrics (622 downloads)