मिठियां मुरादा माँ तो पौन दी एह रात है

मिठियां मुरादा माँ तो पौन दी एह रात है
सुते होए भागा नु ज्गोन दी रात ऐ
गुण मेहरावाल्ड़ी दे गौन दी रात ऐ

सचे दिलो आस रख जेह्ड़े बेहन गे
ओहना झोली रेहमता दे हीरे पल्ले पैन गे
प्यार नाल सिर दी झुकोन दी एह रात ऐ

मने गी स्वालियाँ दी हर इक गल माँ
शरदा दे बूटियाँ नु ला देवेगी फल माँ
दुःख महारानी नु सुनोन दी एह रात ऐ,

ऐथे निर्दोष अज सुनेगी माँ सब दी
एसी केहड़ी रेहमत जो एथो नही ल्भ्दी
भावना दा पलड़ा फेलाउन दी रात ऐ,
download bhajan lyrics (36 downloads)