नि मैं द्वार मैया दे जाना

नि मैं द्वार मैया दे जाना
गल पा के सुहा वाना मैं तेरी जोगन हो गई

सब तो सोहना माँ दा द्वारा लगदा सारे जग तो न्यारा
माँ दी दर दी शान निराली दर तो जाए न कोई खाली
एथो ही सब कुछ पाना
नि मैं द्वार मैया दे जाना

मेनू चड़ेया माँ दा रंग मैं ता होगी मस्त मलंग मैं ता होगी माँ दी दीवानी
गावा भेट बनी मस्तानी तेरे बाजो किस नु सुनाना
नि मैं द्वार मैया दे जाना

चंचल मैं ता माँ दी हो गई
ओहदी ममता दे विच खो गई
होर न कुझ भी चंगा लगदा
की करना इस झूठे जग दा,
तेरे रंग विच मैं रंग जाना
नि मैं द्वार मैया दे जाना
download bhajan lyrics (66 downloads)