श्याम तेरी जब बंशी बोले मेरा कौन ठिकाना

श्याम तेरा जब बंशी बोले,सब जग हुआ दीवाना
मेरा कौन ठिकाना,मेरा कौन ठिकाना,

जहाँ बिताए बचपन और जहाँ साथ साथ मे खेला
उसको भी न समझ मे आये बनबारी तेरी लीला,
युग युग से जो प्रेम में डूबा उसका प्यास बुझे न ,

देती है आवाज़ तुझे अब भी यशोदा मैं,
लेती है छुप छुप के सखिया तेरी आज बलैया,
राधा नही दीवानी सारे गोकुल हुए दीवाना,
श्रेणी
download bhajan lyrics (85 downloads)