तेरी जय हो गणेश कारज सारे सिद्धि करो

तेरी जय हो गणेश तेरी जय हो गणेश,
कारज सारे सिद्धि करो मेरे मन में करो प्रवेश,
तेरी-----

सबसे पहले पूजा तुम्हारी करती दुनियां सारि है ,
सबसे अलग ओ सबसे न्यारी मूषक तेरी सवारी है ,
जो भी याद करे प्रभु उसकी कटते सकल कलेश ,
तेरी -----

माता पिता के आप दुलारे लगते भोले भाले हो,
बिगड़े काम बनाने वाले विघ्न को हरने वाले हो,
गौरा  जिनकी  माता  है  पिता  हैं  तेरे  महेश ,
तेरी -----

रघुवीर बैठा आश लगाये प्रभु जी आप पधारिये,
हम भी आये प्रेम भाव से जीवन मेरा संवारिये ,
ध्यान रहे  तेरा  मन मेरे  दो  ऐसा  उपदेश ,
तेरी-----

लेखक-रघुवीर पाण्डेय
Mo:-9555897799
श्रेणी
download bhajan lyrics (402 downloads)