चिन्तपुरनी माँ दा दर्शन करके आवा गा

सोहने सोहने झंडे मैं साईंकल ते लावा गा
चिन्तपुरनी माँ दा दर्शन करके आवा गा,

साला बाद एह दिन है आया
माँ ने मेनू आप बुलाया
कर के फूल तयारी तुरेया,
माँ दा मैं जय कारा लाया
सब भगता नु जय माता दी कहंदा जावा गा
चिन्तपुरनी माँ दा दर्शन करके आवा गा,

भगता ने सी लंगर लाया हलवे दा परशाद बनाया ,
मैया दा जैकारा लाके
कड़ी चोल दा लंगर खाया
चा दे नाल मैं मटर बेदाने छक के जावा गा
चिन्तपुरनी माँ दा दर्शन करके आवा गा,

माँ दा लख लख शुकर मनावा माँ दा दिता ही मैं खावा
हर था समान है मिलादा मैया जेह्डे पासे जावा
जद तक साह ने चलदे माँ दियां भेटा गावा गा,
चिन्तपुरनी माँ दा दर्शन करके आवा गा,
download bhajan lyrics (17 downloads)