श्री कृष्ण की किरपा से उधार हो गया है

श्री कृष्ण की किरपा से उधार हो गया है
जो भी भजा कन्हिया भाव पार हो गया है,
श्री कृष्ण की किरपा से उधार हो गया है

गनी का गीध अजामित तर गए तर गया सदन कसाई रे,
कान्हा कान्हा रट ते रट तेतर गई मीरा भाई रे,
कलयुग में नाम तरनी का आधार हो गया है,
श्री कृष्ण की किरपा से उधार हो गया है

पावन नाम सुमीर ले तेरा जीवन सफल हो जायेगा
अंत समय कोइ साथ न देगा फिर पीछे पछताएगा,
श्री कृष्ण नाम ही मुक्ति का दवार हो गया है,
श्री कृष्ण की किरपा से उधार हो गया है
श्रेणी
download bhajan lyrics (435 downloads)