साईया वे सोह्नेया

साईया वे सोह्नेया,
हर जरे में पाया तेरा रूप
साईया वे सोह्नेया तेरा रूप

होले होले चलती हवा चैन सकून कहा,
मन में रोजाब नही सांवरिया हो कहा
साईया वे सोह्नेया,

सब कुछ फना याहा बस मोला तेरे सिवा
करदे तू नजरे कर्म सुना जहां मेरा
साईया वे सोह्नेया,
श्रेणी
download bhajan lyrics (11 downloads)