मेरे दिल का यही अरमान

मेरे दिल का यही अरमान के बस जाऊ खाटू में,
करो किरपा किरपा निधान के बस जाऊ खाटू में

उठ के सवेरे श्याम कुंड में न्हाऊ,
मंदिर में पांच बार आरती में आऊ,
भागीची से चुन चुन के कलियाँ मैं लाऊ
हाथो से पिरोके तुझे हार पहनाऊ
चाहत है यही भगवान के बस जाऊ खाटू में,
करो किरपा किरपा निधान के बस जाऊ खाटू में

खाटू जी की माटी को माथे से लगाऊ,
भगतो की सेवा में जिन्दगी बिताऊ,
खाटू जी की गलियों में दिन रात डोलू
प्रेमियों को जय श्री श्याम मैं बोलू,
इतना सा दो वरदान के बस जाऊ खाटू में,
करो किरपा किरपा निधान के बस जाऊ खाटू में

उठा के निशान पैदल रिंग्स आऊ
पेट पल्नियाँ जाके शीश जुकाऊ,
भजनों इ मस्ती हो भगतो के संग में
मोहित कहे रंग जाऊ संवारे के रंग में
जब तक है तन में प्राण
के बस जाऊ खाटू में,
करो किरपा किरपा निधान के बस जाऊ खाटू में
download bhajan lyrics (12 downloads)