ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है
जिधर देखती हु उधर तू ही तू है
ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

मुझे जग के बंधन से तूने निकाला
मुझे हर कदम पर है तूने सम्बाला
मेरे संवारे तुही रुब रूह है
जिधर देखती हु उधर तू ही तू है
ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

अगर आप कुछ मांगने को कहो गे
तुम्ही से तुही को फकत मांग लुंगी
मेरे संवारे तुही रुब रूह है
जिधर देखती हु उधर तू ही तू है
ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

इस दिल में बसी है जो तस्वीर तेरी
तो मस्तक पे उभरी है तकदीर मेरी
मेरे संवारे तुही रुब रूह है
जिधर देखती हु उधर तू ही तू है
ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

तेरे नाम धुन मैं तेरे गीत गाऊ,
तेरे मंदिरों में पोहंच मैं जब जाऊ
तो आवाज आये तू ही जुत्स जू है
मेरे संवारे तुही रुब रूह है
जिधर देखती हु उधर तू ही तू है
ख्यालो में तू है और खाव्बो में तू है

श्रेणी
download bhajan lyrics (37 downloads)