शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे

शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे
ये वारे न्यारे है करती लाखो की झोली है भरती
कोई इस वीर निशानी का सारे जग में डंका बाजे
शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे

कोई इस दुनिया में माँ के जैसा कोई भी दातार नही
जो मांगो वो मिल जाता है करे कभी इनकार नही
इस ज्योत नुरानी का सारे जग में डंका बाजे
शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे

वो इक रूप से माँ आप ने अद्भुत खेल दिखाया था
सुंम्भ नशुबं रकत बीज और महीसा सुर को मारा था
तेरी शेर सवारी का अब सारे जग में डंका बाजे
शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे

भूले से भी जो प्राणी मेरी माँ शरण में आता है
माँ लगाती उसे गले जो झंडा लहराता है
तेरी अमर कहानी का अब सारे जग में डंका बाजे
शेरावाली मैया का सारे जग में डंका बाजे
download bhajan lyrics (21 downloads)