आओ नि सखियों मिल मंगल गावे

आओ नि सखियों मिल मंगल गावे यशोदा जायो लाल नि
आओ नि सखियाँ मिल खुशिया मनावे नन्द के घर आया लाल नि,

सुंदर रूप सलोनो या को चन्दा भी शरमाये रे ,
मुख मंडल पर तेज है ऐसो सूरज फीको लागे रे,
आओ नि सखियों मिल मंगल गावे यशोदा जायो लाल नि

नव मंडल पर उत्सव छायो बदरा रिम झिम गाये रे,
मल या नल भी मंद चलत है धरती को सरसाये रे,
आओ नि सखियों मिल मंगल गावे यशोदा जायो लाल नि

भाल विशाल गुलाल अध है शोबा वरनी न जाए रे,
कमल नैन में जादू एसो बर बस खिचे जाए रे ,
आओ नि सखियों मिल मंगल गावे यशोदा जायो लाल नि

छम छम नाचे मस्त मयूरा कोकिल राग सुनाये रे,
झूम रहे वन उपवन भी सुर नर मुनि हरशाये रे,
आओ नि सखियों मिल मंगल गावे यशोदा जायो लाल नि
श्रेणी
download bhajan lyrics (412 downloads)