ग्यारस की रात हो

ना मांगे चांदी सोना ना मांगे हीरा मोती,
हो जाए दर्श तुम्हारा चाहता अपनी इकलौती,
जल्दी से जल्दी तुमसे मिलने की बात हो,
हम बैठे हो खाटू में कुछ ऐसी करा मात हो,
ग्यारस की रात हो

हम ने तो अर्ज गुजारी आगे मरजी है तुम्हारी
हम तो बेताब बड़े है पाने को झलक तुम्हारी,
भागो वाला दिन भागो वाली वो रात हो,
हम बैठे हो खाटू में कुछ ऐसी करा मात हो,
ग्यारस की रात हो

प्रभु इतनी किरपा करदो,
हो गा उपकार तुम्हारा
आ पाए हम खाटू में करने को भजन तुम्हारा,
बाबा तेरे भगतो के सिर पर तेरा हाथ हो,
हम बैठे हो खाटू में कुछ ऐसी करा मात हो,
ग्यारस की रात हो
download bhajan lyrics (27 downloads)