किते भी मेरा दिल नहियो लगदा

सोना वेख के नजारा वृन्दावन दा,
किते भी नही मेरा दिल नही लगदा,
मेनू भूल गया सुख दुःख तन मनदा,
किते भी मेरा दिल नहियो लगदा,

संवारा सलोना मेरा वृंदावन वसदा,
मीठा मीठा बोल्दा ते मीठा मीठा हसदा,
जादू चल गया ओहदे नैनं दा,
किते भी मेरा दिल नहियो लगदा,

चंन जेहा मुखड़ा ते नैन काले काले ने,
बुल ने रसीले ओहदे बाल घुंगराले ने,
ढंग जग तो न्यारा है चलनं दा,
किते भी मेरा दिल नहियो लगदा,

तन ते पिताम्भर गल वैजयन्ती माला है,
मोर मुकट सोने शीश ते निराला है,
नही जवाब ओहदी पैरा दी पेजन दा,
किते भी मेरा दिल नहियो लगदा,

कना विच गूंजे ओहदे मुरली दी तान ऐ,
तिरलोकी दास मेनू ओहदा ही ध्यान ऐ,
अखा तक दियां खवाब मिलन दा,
किते भी मेरा दिल नहियो लगदा,
श्रेणी
download bhajan lyrics (151 downloads)