खम्मा खम्मा लीज्यो जी म्हारे साँवरिया

खम्मा खम्मा लीज्यो जी म्हारे साँवरिया
दरबार आऊ हाथरा हुकम उठाऊ थारी,
हजारी भ्जाऊ,
खम्मा खम्मा लीज्यो जी म्हारे साँवरिया

दिल को नजरानो मैं लाइयो दीवानों
सितारों सांवरियां,
मैं प्रेमी पुरानो हे प्रीत पहचानो,
निहारो सांवरियां,
मिले निजरा नजर फिर हॉवे लो असर तने साँची मैं बताऊ  
खम्मा खम्मा लीज्यो जी म्हारे साँवरिया

सेठ थे माहरा मैं चाकर थारा माह्पे जी थारी ठाकरी,
चाकरी थारी शान है माहरी थे ही गोलू की फाग्नी,
मैं तो जिथे जिथे जाऊ थारा भजन सुनाऊ
खम्मा खम्मा लीज्यो जी म्हारे साँवरिया
download bhajan lyrics (432 downloads)