मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा

मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा
हर पासे सुख दी आस करा हथ जोड़ के मैं अरदास करा,
मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा

रोक के दुख दी अंधी नु ऐह दुनिया मुकदी जांदी नु,
हूँ बक्श दे किते गुनाहा हु नाले पा दे सिधिया राहां नु
मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा

सारी दुनिया तेनु पुकार रही,
तेरे रहम दा कर इन्तजार रही,
तेरी मेहर जे हो जाए इन वारि हो जायेगी दूर एह महामारी,
मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा

हर पासे हाहा कार होई,
एह दुनिया हूँ लाचार होई,
सुन ले विनती हूँ ब्चेया दी एह गल हूँ वसो बार हुई,
मेरे परमपिता परमात्मा कर सब दुखा दा खात्मा
श्रेणी
download bhajan lyrics (182 downloads)