तेरे हथ विच डोर मालका

तेरे हथ विच डोर मालका तेरे हथ विच डोर,
मुश्किल दे इस समय अन्दर दिसदा न कोई होर,
मालका तेरे हथ विच डोर,

एह दुनिया पई कुरलावे,
कोई राह नजर ना आवे,
फ़ैल रही इस महामारी ते चलदा न कोई जोर मालका,
तेरे हथ विच डोर मालका तेरे हथ विच डोर,

कोई न भूखा प्यासा सोवे बिना माँ दे न बच्चा रोवे,
पुकार रही है दुनिया सारी कर ले इस ते गोर मालका,
तेरे हथ विच डोर मालका तेरे हथ विच डोर,

दुनिया ते जो विपदा आई दुखिया नु वेख जिंग कुरलाई,
सुख शांति करदे रबा केहने आ हथ जोड़,
तेरे हथ विच डोर मालका तेरे हथ विच डोर,

श्रेणी
download bhajan lyrics (30 downloads)