भोलेनाथ की बारात चली रे

आ देखो बेंड बाजा निकले साथ चली रे,
अरे देखो कैसे भूतन के साथ चली रे ,
भोलेनाथ की बारात चली रे

अंग भभूती तन मर्ग शाला,
गले में पहने मुंडन माला,
और नाग लिपटाये काला,
दुलहा बना है देखो डमरू वाला,
अरे देव दानव की जमात चली रे,
भोलेनाथ की बारात चली रे

नंदी भंगी झूम रहे है,
भंग चडा के घूम रहे है,
भोले के सिर पे देख के सेहरा,
मथा सारे चूम रहे है ,
भोले की धुनी रमात चली रे,
भोले नाथ की बारात चली रे

भूतो की टोली लेकर भोला
भस्म रामये है अंग चोला,
मस्त मलंग है आज तू भोला
बम भोला जी मेरा बम बम भोला,
बेनाम बस्म उदात चली रे,
भोले नाथ की बरात चली रे ,
श्रेणी
download bhajan lyrics (35 downloads)