सोहना लगदा गुफा दा वासी

सोहना लगदा गुफा दा वासी तकेया न नैन रजदे  

हां सिर ते सोहनीया सोहन ज्टावा,
चरना दे विच चन्दन खडावा
चंद मुखड़ा जो पुरंमाशी,तकेया न नैन रजदे  
सोहना लगदा गुफा दा वासी तकेया न नैन रजदे  

हां हथ पे चिमटा सोहे,मोर सवारी मन नु मोहे,
कर दर्शन मिट दी उदासी,तकेया न नैन रजदे  
सोहना लगदा गुफा दा वासी तकेया न नैन रजदे  

हा जी करदा मुख वेखी जाइए,
कोमल जलंधरी नैनी शर्माइये,
रूह कंठ दी रजे न प्यासी,तकेया न नैन रजदे  
सोहना लगदा गुफा दा वासी तकेया न नैन रजदे  

download bhajan lyrics (51 downloads)