मुरली भजावे कान्हा गोपियाँ के साथ

मुरली भजावे कान्हा गोपियाँ के साथ छम छम नाचे तो राधा रानी आज,
गाइयो का ग्वाला ब्रिज का दुलारा माखन चुराए कान्हा रास रचाये,
छम छम नाचे वो आज  तू राधा संग नाच,
मुरली भजावे कान्हा गोपियाँ के साथ

मटकी फोड़े वृज के ग्वाले सब को छेड़े माँ तेरा लाला,
ओ कान्हा कान्हा कमाल करो न अटकी नैया को पार करो न,
गाइयो का ग्वाला ब्रिज का दुलारा माखन चुराए कान्हा रास रचाये,
छम छम नाचे वो आज  तू राधा संग नाच,

ना सताओ राधा को तुम तेरे धुन की वो है दीवानी,
कहता है ज़ुबीन ऐसा काज करो न कान्हा पे तुम नाज करो न
गाइयो का ग्वाला ब्रिज का दुलारा माखन चुराए कान्हा रास रचाये,
छम छम नाचे वो आज  तू राधा संग नाच,
श्रेणी
download bhajan lyrics (47 downloads)