करोली ले चल रे पिया

आये मैया के नवराते करोली ले चल रे पिया ,
दर्शन जाये रही दुनिया सारी मेरो लागे न जिया,
आये मैया के नवराते करोली ले चल रे पिया ,

उचे पर्वत भवन वसाया सझधज बेठी दो महामाया ,
लेके आस शरण को आये मैया सोइए भाग जगाए,
मैं भी माँ के दर्शन पाऊ करोली ले चल रे पिया ,
दर्शन जाये रही दुनिया सारी मेरो लागे न जिया,

काली सिल्की महिमा न्यारी  नहाए मिटती सभी बिमारी,
मिलता पुण्ये नहाने से करती है किरपा महारानी,
मैं भी काली सिंल में न्हाऊ करोली ले चल रे पिया ,

हलवे चने का भोग बनाऊ चुनरी घोटे वाली लाऊ,
लॉन्ग ध्वजा नारियल केला माँ को भेट च्डाऊ,
भगती का वर मैं भी पाऊ करोली ले चल रे पिया ,
दर्शन जाये रही दुनिया सारी मेरो लागे न जिया,

मेरे लागी प्रीत मैया से मोसे पल और रहा न जाए ,
मेरी बात मान लो प्रीतम मुझे चैन तभी अब आये,
बस अब और कशु नही चाहू करोली ले चल रे पिया ,
दर्शन जाये रही दुनिया सारी मेरो लागे न जिया,
download bhajan lyrics (59 downloads)