ओ सालासर के राजा

ओ सालासर के राजा मैं दर तेरे आवा जावा गा कर किरपा
ओ मेहंदीपुर के राजा मैं दर तेरे आवा जावा गा कर किरपा

सिंधुर मैं लेके आवा मैं हाथा नाल आप लावा गा कर किरपा,
परशाद मैं लेके आवा मैं भोग बाबा तनु लावा कर किरपा,

कीर्तन मैं इक करवावा मैं साऱी रात नाचा गावा गा कर किरपा
जो देना हो तो देदे मैं सब कुछ मथे लावा गा कर किरपा,
ओ सालासर के राजा मैं दर तेरे आवा जावा गा कर किरपा